राजपाके पुराने निर्वाचन चिह्नमे चुनाव लड्पर्वाक बाध्यता

0

अषाढ २५ गते,नयाँ पार्टीके रुपमे दल दर्ताक लेल निर्वाचन आयोगमे निवेदन देने राष्ट्रिय जनता पार्टी नेपालके तेसर चरणमे आगामी आश्विन २ गते होबबला स्थानीय तह निर्वाचनमे पुराने निर्वाचन चिह्नसँ चुनाव लड्पर्वाक बाध्यता रहलअछि ।
निर्वाचन घोषणा भऽक दु चरणके निर्वाचन समेत सम्पन्न भेल अवस्थामे नयाँ दलसभ नयाँ चिह्न लऽक निर्वाचनमे जाय सम्भव नै भेल आयोग जनौलकअछि । स्थानीय तहके निर्वाचनके मिति घोषणाकाल दर्ता भऽक निर्वाचन चिह्न प्राप्त कएने दलसभ मात्र दलीय निर्वाचन चिह्न पाबके व्यवस्था अछि ।
संविधानके धारा २६९ आ २७१ अनुसार निर्वाचन प्रयोजनक लेल आयोगमे दर्ता भेल राजनीतिक दलसभ मात्र स्थानीय तह निर्वाचन ऐन, २०७३ के आधारमे दलीय निर्वाचन चिह्न प्राप्त कर सक्वाक प्रावधान रहल आयोगक प्रवक्ता सूर्य प्रसाद शर्मा जानकारी करौलनिअछि । शर्मा कहलनि, “आब नयाँ पार्टी दर्ता होबके आ नयाँ पार्टीके चुनाव चिह्न मतपत्रमे छापिक पहिनही घोषणा भेल निर्वाचनमे प्रयोग करके बात सम्भव नैअछि ।”
राजपा गठन होबसँ पहिने राष्ट्रिय दलके रुपमे मान्यता पओने छ दलमध्ये कोनो एक दलके निर्वाचन चिह्न लऽक निर्वाचनमे जायके बाट कानुन खुल्ला कएनेअछि । मधेस केन्द्रित राजनीति करति आएल छ दलबीच गत वैशाख ७ गते एकीकृत भेल राजपासभ गत शुक्रदिन नयाँ दलके रुपमे दल दर्ताक लेल आयोगमे निवेदन दर्ता करौनेअछि ।
व्यवस्थापिका–संसद् प्रतिनिधित्व करबला तराई–मधेस लोकतान्त्रिक पार्टी, सद्भावना पार्टी, तराई मधेस सद्भावना पार्टी, राष्ट्रिय मधेस समाजवादी पार्टी, नेपाल सद्भावना पार्टी आ मधेसी जनअधिकार फोरम, नेपाल गणतान्त्रिक एकीकृत भेलअछ् ि। राजनीतिक दलसभ दल दर्ताक लेल निवेदन देने मितिसँ ४५ दिनभितर दल दर्ताके निर्णय लगाबपर्वाक कानुनी व्यवस्थानुसार राजपासभ बुझौने दलके घोषणापत्र, विधानलगायत आवश्यक कागजातके अध्ययन भऽरहल आयोग जनौलकअछि । राजपासभ अपन दलके चुनाव चिह्न छाता माग कएनेअछि ।

Share.

Leave A Reply